11-12-2018 07:16:pm
उत्तर पुस्तिका परीक्षक की राय का दस्तावेज, छात्र को इसकी प्रति देने से इंकार नहीं कर सकते विश्वविद्यालय: मप्र सूचना आयोग || माइन ब्लास्ट, दो जवान शहीद  || ब्रटेन के मंत्री ने दिया इस्तीफा || अफगानिस्तान में 10 आतंकवादी मारे  || ब्रह्मोस और एआरवी सहित 3000 करोड़ की सैन्य खरीद को मंजूरी  || असम में इंटरसिटी एक्स. के कोच में धमाका, 11 जख्मी  || कांग्रेस ने फिर मांगी स्ट्रॉन्ग रूम की डेढ़ घंटे की वीडियो रिकॉर्डिंग || चिदंबरम ने जीडीपी पर जश्न के लिए भाजपा का उड़ाया मजाक :  || एक माह में पेट्रोल-डीजल के दाम में 7 रुपए की कमी || भारत के लिए यह सीरीज जीतने का सुनहरा मौका : स्टीव || भारत ए की पारी 323 पर सिमटी, सिराज ने दो विकेट लिए  || जजों की नियुक्ति कॉलेजियम ही करेगा; सरकार की याचिका खारिज  || पंजाब के मंत्री बोले इस्तीफा दें सिद्धू  || राहुल ने कहा- कैसे हिंदू हैं मोदी; सुषमा ने कहा- दुविधा तो आपके धर्म पर है || प्रदर्शन में दिल्ली पहुंचे किसान ने आत्महत्या की || प्रियंका-निक जोनास बने जीवनसाथी || लोकपाल पर 30 जनवरी से अन्ना फिर मैदान में  || कबड्डी खिलाड़ी का करता था पीछा बात करने के लिए बना रहा था दबाव ||

भोपाल यदि आप अपना घर बनवा रहे हैं, तो र्इंट, गिट्टी, रेत और सीमेंट ढंककर लाएं। खुले में लाने पर आपको पांच हजार रुपए का जुर्माना चुकाना पड़ सकता है। दरअसल शहर में धूल मिट्टी से होने वाले प्रदूषण को कम करने के लिए नगर निगम ने खुले वाहनों में बिल्डिंग मटेरियल ट्रांसपोर्टेशन पर रोक लगा दी है। यही नहीं सीएंडडी वेस्ट यानी मलबे का परिवहन भी ढंक कर करना होगा। अगर आपने बिल्डिंग मटेरियल या मलबा सड़क पर रखा है, तो भी आपका चालान कट सकता है। नगर निगम ने बिल्डिंग मटेरियल और सीएंडी वेस्ट, सड़कों सहित अन्य सार्वजनिक जगहों पर इकट्ठा करने पर भी रोक लगा दी है। इस संबंध में बुधवार को नगर निगम आयुक्त अविनाश लवानिया ने स्थाई आदेश जारी कर दिया है। साथ ही सभी 19 जोनों के जोनल अधिकारियों और सहायक स्वास्थ्य अधिकारियों (एएचओ) को भी कार्रवाई के लिए निर्देशित किया है। गुरुवार से कार्रवाई शुरू हो सकती है।

ननि ने क्यों लगाया प्रतिबंध

गौरतलब है कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) की प्रिंसपल बेंच, दिल्ली में धूल-मिट्टी से होने वाले प्रदूषण के संबंध में एक याचिका पर आदेश जारी किए गए हैं। इसमें देश के 102 शहरों में धूल और मिट्टी से होने वाले प्रदूषण को लेकर चिंता जताई गई थी। इसके परिपालन में नगर निगम द्वारा यह कड़ा कदम उठाया जा रहा है। जानकारी के अनुसार, इस प्रस्ताव को पारित करने के लिए इसे एमआईसी की बैठक में भी रखा जाएगा।

फिलहाल ये हैं नियम

पर्यावरण वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की अधिसूचना 29 मई 2016 तथा नगरीय ठोस अपशिष्ट प्रबंधन एवं प्रहस्तन नियम 2000 तथा पुन: निर्माण एवं विध्वंस अपशिष्ट संबंधी नियमों के तहत नगरीय निकायों को जुर्माना वसूलने का अधिकार है।

किस पर कितना जुर्माना

कंस्ट्रक्शन एंड डिमोलेशन वेस्ट (सीएंडडी वेस्ट) उठवाने के लिए प्रति ट्रिप 1500 रुपए देने होते हैं। मलबा लेने के लिए 500 रुपए प्रति ट्रिप देने होते हैं। सीएंडी वेस्ट वक्त रहते खुद या नगर निगम से नहीं उठवाया जाता तो निगम संबंधित व्यक्ति से 3000 रुपए जुर्माना वसूल करता है।

peoplessamachar
NEWS EXPRESS

0

 
कौन कर्जदार नहीं, लोन इस जमाने की जरूरत किसानों की खुदकुशी पर बोले मंत्री || पीठासीन अधिकारियों ने आधी-अधूरी डायरी और फॉर्म भरकर जमा कर दिए || फोरम के आदेश-राशि वापस करो या जेल जाने को तैयार रहो || बहू को दहेज के लिए सताया, पति सहित तीन फंसे || आठ दिसंबर को लोक अदालत || नवविवाहिता छत से गिरी, मौत || धोखाधड़ी कर वृद्धा के जेवर लेकर फरार हुए आरोपियों की तलाश || टावर पर चढ़कर किसान कर रहे 7 दिनों से प्रदर्शन || एकतरफा प्यार में आशिक ने इंस्टाग्राम पर अपलोड किए युवती के अश्लील फोटो || साहब...बच्चियों का सौतेला पिता ही हैवान बन गया है, इन्हें किसी आश्रम में रखवा दीजिए || पश्चिम : मतदान 70फीसदी पार, हितकारणी स्कूल में कई बार खराब हुई ईव्हीएम || पहले किया मतदान फिर169 बेटिकट यात्रियों को दबोचा || 71.63 % मतदाताओं ने डाले वोट, 8 नए विधायकों का भाग्य ईवीएम में कैद || लोकतंत्र की नींव मजबूत करने युवाओं में दिखा जोश || मतदाताओं ने की 89 प्रत्याशियों की किस्मत ईवीएम में बंद || 50 घंटे बाद खुली दुकानें,सुरा प्रेमियों ने ली राहत की सांस ||
© Copyright 2016 By Peoples Samachar.