19-02-2017 07:52:pm
कनावर में जमीनी विवाद पर फायरिंग, तीन घायल || बच्चों को घर छोड़कर वापस लौट रही स्कूल वैन में लगी आग, हादसा टला  || सिम्युलेटर में सुखोई उड़ाने का अनुभव लिया || सिंधिया 21 को पहुंचेंगे भोपाल  || बडे बनो पर देश सेवा का भाव जरूरी  || भाजपा से जुड़े कारोबारियों पर जारी रही आईटी की कार्रवाई || प्रॉपर्टी के विवाद में बहनोई ने गला रेतकर की हत्या || निरीक्षण पर आए जीएम ने नहीं रखा स्टेशन पर पैर  || प्रसूति गृह पर धरना देकर बैठ गए हड़ताली संविदाकर्मी || मेला :रास्ते का माल सस्ते में || डीजी के निर्देश से केन्ट पार्षदों में हड़कंप || वाणी में विनय रखें देश के युवा  || जरूरतमंदों को नहीं मिल रहा उज्ज्वला गैस कनेक्शन || स्मार्ट सिटी की बैठक पर संशय || चटक धूप ने निकाला पसीना || मेयर बोले - अपमान किया है तो सिद्ध करो, इस्तीफा दे दूंगा  || संत मोरारी बापू की रामकथा आज से, तैयारियां पूर्ण || नोटबंदी से आमजन को हुई परेशानी: दामोदर || लूट का आरोपी पुलिस की गिरफ्त में || चेन लूट कर भागी तीन महिलाओं को पकड़ा || सिथौली पर इंजन फेल, यातायात बाधित || पटाखे बनाने समय विस्फोट महिला की मौत, दो घायल || यशोधरा राजे के विरोध के मुद्दे पर हरिवल्लभ और गणेश में तकरार || अब सभी अवैध कॉलोनियां होंगी वैध: माया सिंह || 11 दिन तक लगातार नाबालिग किशोरी हुई बलात्कार का शिकार || एक सैकड़ा कर्मचारियों को दिलाया पीएफ का लाभ || धर्म, संस्कृति की रक्षा के साथ देश के विकास में सहयोग दें: पाण्डेय || नेताजी सुभाष चंद्र बोस के साथ काम करने वाले सेनानी या भगोड़े  || शिवसेना ने कहा-अमित शाह की संपत्ति बताएं  || 20 किमी साइकिल चला शर्मिला ने पर्चा भरा  || 7साल की बच्ची ने गूगल से मांगी नौकरी  || ISRO के रॉकेट ने पहली बार ली सेल्फी   || चीन में कर्जदारों को ट्रेन, प्लेन में नहीं मिलेगी एंट्री  ||

नई दिल्ली। दिव्यांग बच्चों के लिए संचालित माता भगवंती चढ्ढा निकेतन ने मूक-बधिर बच्चों के लिए गुरुवार को फोटो आधारित ऐप ‘वाक्य’ पेश किया जिससे विशेष तरह के दिव्यांगों के अनुरूप कस्टोमाइज्ड किया जा सकता है। निकेतन के 18वें वार्षिकोत्वस के मौके पर इस ऐप के साथ ही दिव्यांग बच्चों द्वारा निर्मित उत्पादों को आॅनलाइन बेचने के लिए ‘स्वयं’ पोर्टल भी शुरू किया गया है। निकेतन के संचालक पोंटी चढ्ढा फाउंडेशन ने यहां कहा कि वाक्य को उन लोगों के लिए विकसित किया गया है, जो बोलने में सक्षम नहीं हैं या आॅटिज्म, सिरेब्रल पाल्सी और अन्य मानसिक एवं शारीरिक बीमारियों के कारण नि:शक्त हैं। इस एपे को उपयोगकर्ता की विशिष्ट जरूरतों के अनुसार, कस्टमाइज किया जा सकता है और इसके लिए इंटरनेट की भी जरूरत नहीं होती है। इसका किसी भी भाषा में उपयोग किया जा सकता है। यह एप गूगल प्ले स्टोर पर नि:शुल्क उपलब्ध है। निकेतन में पढ़ने वाले बच्चों द्वारा निर्मित उत्पादों को बेचने के लिए स्वयं ई-पोर्टल शुरू किया गया है। संगठन ने कहा कि इसके जरिये होने वाली आय उन बच्चों को प्रोत्साहन राशि के तौर पर दी जायेगी जो वे उत्पाद बनाएंगे। अभी ये छात्रा शादी कार्ड, पैकेजिंग उत्पाद, आॅफिस स्टेशनरी, पेपर बैग और अन्य गिμट उत्पाद शामिल हैं।

peoplessamachar
NEWS EXPRESS

0

 
ओपन बार बनी लिंक रोड, मिनी ट्रक में बिक रही शराब  || विदेश राज्यमंत्री करेंगे जबलपुर में पासपोर्ट सेवा केद्र का शुभारम्भ  || युवक को ट्रेन से धकेला || शौचालय बनाने मुफ्त दी 25 ट्राली रेत || अनूपपुर में दुराचार कर किशोरी को जलाया || अंतिम दिन निपटाए गए 40 मामले  || मुस्कान हाईट्स का लुटेरा हैदराबाद में पकड़ा गया!  || निपट गया होटल का मामला, वापस पहुंचा सारा सामान  || गाय के मूत्र से बनेंगी पशु चिकित्सा विवि में दवाइयां || आईएसडी को लोकल कॉल में बदल कर लगाया करोड़ों का चूना  || दिव्यांगता पुनर्वास व मानव संसाधन पर हुई कार्यशाला || राजीव गांधी वार्ड को मिलेगी मानव श्रृंखला बनाई नए गार्डन की सौगात || आईटी की कार्रवाई से सराफा सहित अन्य बाजारों में हड़कंप || 11 फीसदी हीमोग्लोबिन होने वाली महिलाएं हुई पुरुस्कृत || शैक्षणिक भ्रमण के लिए छात्र जयपुर रवाना हुए || छात्रों ने ‘डीड आॅफ द मंथ’ में बच्चों में बांटी खुशियां || 2018 तक पमरे की हर ट्रेन में होंगे बायो टायलेट || कैरियर के लिए मिले टिप्स || सड़क की मरम्मत का कार्य जारी || सिर्फ चुनावों में भाजपा करती है राम को याद || सहकारी बैंकों के संविदा कर्मियों को राहत || सोशल मीडिया एक्सपर्ट का पहला शो रहा फ्लॉप || नाम बदलकर महिला को कर रहा था परेशान || पानी के पाउच बनाने वाली फैक्ट्री पर छापा || डरकर नहीं, डटकर दें परीक्षा - मिश्र || ट्रक-बाइक की भिड़ंत में एक की मौत, एक घायल  || शौचालयविहीन परिवारों को नहीं मिलेगी शासकीय सुविधा : कलेक्टर  || न ढंग का नाश्ता मिलता है न ही भरपेट भोजन ||
© Copyright 2016 By Peoples Samachar.