26-07-2017 06:05:am
अवैध पिस्टल सहित दो आरोपी गिरफ्तार || आईटीआई में काम कारने वाली महिला ने की खुदकुशी || 7 बदमाश पुलिस की गिरμत में अवैध हथियार भी बरामद || सात घंटे के जनदर्शन में उमड़ा सैलाब, बोल बम से गूंजा अंचल || मंडल केंद्रों पर फूंके पुतले  || भिंड में एक सप्ताह में निपटे सिर्फ 545 प्रकरण  || अंतिम दिन नाम निर्देशन-पत्र दाखिल करने उमड़े दावेदार || बमभोले के जयकारों सें गूंजे शिवालय  || सिंधिया का पुतला फूंका  || 11 श्रीसंघों ने की गुणानुवाद सभा || साधना का महत्व, साधन का नहीं || कोर्ट-कचहरी के फेर में अटके 45 करोड़ रुपए || टिन शेड के लिए चार लाख रुपए स्वीकृत || अध्यापकों ने भोपाल पहुंचकर भरी हुंकार || किरण और पुष्पा के बीच होगा अध्यक्ष पद के लिए मुकाबला || टाइगर की खाल बेचते चार आरोपी गिरफ्तार || आराधकों ने भक्तिभाव से की प्रभु की पूजा-अर्चना || पॉलिथीन के उपयोग के विरुद्ध लोगों को किया जागरूक || भगवाधारियों ने लगाए भोले के जयकारे ||

इंदौर  ।  अमरनाथ यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं पर हमले की घटना हो या उत्तरप्रदेश की विधानसभा में विस्फोटक सामग्री मिलने का मामला। भारत सरकार और संबंधित राज्य सरकारों ने इसे गंभीरता से लिया है। ये बात केंद्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत ने इंदौर में आयोजित एक कार्यक्रम के पश्चात मीडिया से बात करते हुए अमरनाथ यात्रा के दौरान हुए आतंकवादी हमले की निंदा करते हुए कही। उन्होंने कहा कि इस घटना पर सरकारें अपना काम कर रही हैं। जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री ने भी इसको अत्यधिक गंभीरता से लिया है। उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री ने भी इस घटना के बाद वक्तव्य देकर ये संकल्प दोहराया है कि हम इस तरह की गतिविधियों में संलिप्त लोगों को बर्दाश्त नहीं करेंगे। उनको ढूंढ़ेंगे और उनको कठोर दंड देने की कार्रवाई भी करेंगे। नरोत्तम मिश्रा के मामले में श्री गहलोत का कहना है कि इस मामले में कानून अपना काम कर रहा है और जो मामला कोर्ट में हो उस पर टिप्पणी करना उचित नहीं है। इस विषय पर चुनाव आयोग ने जो निर्णय दिया है वो न्यायालय में विचाराधीन है। न्यायालय का निर्णय आने तक हमको इंतज़ार करने की आवश्यकता है। उसके बाद पार्टी तय करेगी कि क्या करना है। भाजपा नरोत्तम मिश्रा के साथ थी और रहेगी। कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के नए किसान नेता के रूप में उभरने के सवाल पर केंद्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत ने कहा कि मप्र के मुख्यमंत्री एकमात्र हिंदुस्तान में ऐसे मुख्यमंत्री हैं, जिन्होंने किसानों के हित के संरक्षण की सबसे अधिक योजनाएं चला रखी हैं। किसानों को बिना ब्याज के ऋण देते हैं और वो भी 10 प्रतिशत सब्सिडी के साथ। उन्होंने कहा कि 1 लाख लो और 90 हजार जमा करवाओ। इन तीन वर्षों में 18 हजार करोड़ से ज्यादा किसानों को उनकी फसल नुकसान भरपाई का मुआवजा मप्र सरकार ने दिया है। हिंदुस्तान में कोई भी राज्य ऐसा नहीं है, जिसने 200-300 करोड़ से ज्यादा का मुआवजा दिया हो। किसानों का सर्वाधिक हितैषी यदि कोई है तो वो मुख्यमंत्री शिवराजसिंह हैं। पांच साल से अच्छा काम करने के लिए कृषि कर्मण पुरस्कार भी मप्र को मिल रहा है।

peoplessamachar
NEWS EXPRESS

0

 
कियोस्क बैंक के ताले तोड़कर बाइक व नकदी चोरी  || जीवनभर शिक्षा देने वाले मोघे दे गए अंत में भी संदेश  || सिंधिया का अपमान नहीं होगा बर्दाश्त: कांग्रेस  || अल्पसंख्यक के उत्थान के लिए करूंगा काम  || तमिलनाडु हैंडीक्रॉफ्ट मेला ग्वालियर में लगा  || पिछले साल 100 करोड़ की प्याज खरीदी, 75 करोड़ की सड़ गई, फेंकने पर भी किए खर्च || बजट की 30%तक राशि खर्च नहीं कर सके निकाय || जातिगत गालियां देने और पीटे जाने की शिकायत की  || मप्र ट्रैवल मार्ट अक्टूबर में भोपाल में आयोजित होगी || नरोत्तम मिश्रा के नाम पर विस में जवाब से हंगामा || छेड़छाड़ के आरोप में पिता को ले गई पुलिस तो बेटे ने फांसी लगाकर दी जान  || भाजपा ने प्रदेशभर में फूंके ज्योतिरादित्य सिंधिया के पुतले || युवक की गला व पेट काटकर हत्या  || भक्तों का हाल जानने के लिए करेंगे नगर भ्रमण || आधा दर्जन घरों में धावा चोरों ने किए हाथ साफ ||
© Copyright 2016 By Peoples Samachar.