26-07-2017 06:05:am
अवैध पिस्टल सहित दो आरोपी गिरफ्तार || आईटीआई में काम कारने वाली महिला ने की खुदकुशी || 7 बदमाश पुलिस की गिरμत में अवैध हथियार भी बरामद || सात घंटे के जनदर्शन में उमड़ा सैलाब, बोल बम से गूंजा अंचल || मंडल केंद्रों पर फूंके पुतले  || भिंड में एक सप्ताह में निपटे सिर्फ 545 प्रकरण  || अंतिम दिन नाम निर्देशन-पत्र दाखिल करने उमड़े दावेदार || बमभोले के जयकारों सें गूंजे शिवालय  || सिंधिया का पुतला फूंका  || 11 श्रीसंघों ने की गुणानुवाद सभा || साधना का महत्व, साधन का नहीं || कोर्ट-कचहरी के फेर में अटके 45 करोड़ रुपए || टिन शेड के लिए चार लाख रुपए स्वीकृत || अध्यापकों ने भोपाल पहुंचकर भरी हुंकार || किरण और पुष्पा के बीच होगा अध्यक्ष पद के लिए मुकाबला || टाइगर की खाल बेचते चार आरोपी गिरफ्तार || आराधकों ने भक्तिभाव से की प्रभु की पूजा-अर्चना || पॉलिथीन के उपयोग के विरुद्ध लोगों को किया जागरूक || भगवाधारियों ने लगाए भोले के जयकारे ||

मंदसौर शहर में चाइना मोबाइल कंपनियों ने विज्ञापन करके शहर में हर दुकान का रंगरोगन कर लिया है। विज्ञापन के लिए सड़कों को दोनों ओर से घेर लिया है। शहर में जगह-जगह विवो और ओप्पो कंपनियों ने अतिक्रमण कर तंबू लगा लिए हैं, जिससे 30 फीट की सड़क 20 फीट में तब्दील हो जाती है। अतिक्रमण हटाओ की जगह अतिक्रमण करो मुहिम चल रही है, लेकिन जिम्मेदारों द्वारा इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

एक तरफ बहिष्कार, दूसरी ओर प्रचार

देश में एक तरफ तो चीन के सामानों की खरीदी के विरोध पर जोर दिया जा रहा है, जिससे चीन की अर्थव्यवस्था की कमर टूटे, वहीं दूसरी तरफ चीनी कंपनियों के मोबाइलों का जबरदस्त प्रचार किया जा रहा है। सरकार द्वारा भी इस ओर कोई विशेष ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

ग्राहक पंचायत ने की पहल

अभा ग्राहक पंचायत के जिला संयोजक मिथुन वप्ता व जिला संपर्क प्रमुख नवनीत शर्मा ने बताया कि पूरे शहर में मोबाइल कंपनी विवो व ओप्पो के विज्ञापन ही नजर आ रहे हैं। ऐसा लगता है मानों इन कंपनियों के अलावा कोई और कंपनी बाजार में है ही नहीं। जहां देखो इन्हीं के बड़े-बड़े तंबू लगे दिखाई देते हैं। इन तंबुओं की वजह से चारों ओर अस्थायी अतिक्रमण पनप गया है। रोजाना इन कंपनियों के कर्मचारी अलग-अलग दुकानों पर मार्केटिंग करने पहुंच जाते हैं और बड़े-बड़े तंबू और स्वागत द्वार बना देते हैं। दुकानों को तो ऐसा बना देते हैं मानों दुकान है ही नहीं। पूरी दुकान इन तंबुओं व द्वारों से ढंक जाती है। इससे इनकी दुकानदारी तो चमक जाती है और फ्री में कंपनियों का विज्ञापन भी हो जाता है, परंतु इससे आमजन प्रभावित हो रहा है। नगरपालिका व यातायात अमले को यह बिलकुल भी दिखाई नहीं दे रहा है। इन कंपनियों द्वारा अस्थायी अतिक्रमण कर आमजन के आनेजा ने में बाधा उत्पन्न की जा रही है। दोनों ओर अतिक्रमण कर सड़कों को गायब ही कर दिया गया है। 30 फीट की सड़क 20 फीट में तब्दील हो गई है। क्या इन कंपनियों द्वारा नगरपालिका से कोई अनुमति ली गई है या इनकी मनमर्जी चल रही है? ये एक विचारणीय प्रश्न है। और अनुमति ली भी गई तो ऐसा कौन सा विज्ञापन है, जो आम जनता को परेशानी में डालकर किया जा रहा है। यह मामला नगरपालिका व यातायात विभाग को देखना होगा।

peoplessamachar
NEWS EXPRESS

0

 
कियोस्क बैंक के ताले तोड़कर बाइक व नकदी चोरी  || जीवनभर शिक्षा देने वाले मोघे दे गए अंत में भी संदेश  || सिंधिया का अपमान नहीं होगा बर्दाश्त: कांग्रेस  || अल्पसंख्यक के उत्थान के लिए करूंगा काम  || तमिलनाडु हैंडीक्रॉफ्ट मेला ग्वालियर में लगा  || पिछले साल 100 करोड़ की प्याज खरीदी, 75 करोड़ की सड़ गई, फेंकने पर भी किए खर्च || बजट की 30%तक राशि खर्च नहीं कर सके निकाय || जातिगत गालियां देने और पीटे जाने की शिकायत की  || मप्र ट्रैवल मार्ट अक्टूबर में भोपाल में आयोजित होगी || नरोत्तम मिश्रा के नाम पर विस में जवाब से हंगामा || छेड़छाड़ के आरोप में पिता को ले गई पुलिस तो बेटे ने फांसी लगाकर दी जान  || भाजपा ने प्रदेशभर में फूंके ज्योतिरादित्य सिंधिया के पुतले || युवक की गला व पेट काटकर हत्या  || भक्तों का हाल जानने के लिए करेंगे नगर भ्रमण || आधा दर्जन घरों में धावा चोरों ने किए हाथ साफ ||
© Copyright 2016 By Peoples Samachar.