23-11-2017 10:07:pm
फिटनेस सेंटर के लिए कॉमन रोड बनाया, लगेगा जाम || करीना ने ठुकराया टीवी पर जज बनने का आॅफर  || कपिल की फिल्म ‘फिरंगी’ का प्रदर्शन एक दिसंबर तक टला || जेएएच को देखकर बोले कलेक्टर: यहां के हालात तो बेहद खराब हैं, ऐसे नहीं चलेगा || पद्मावती के निर्माता भंसाली के खिलाफ परिवाद दाखिल || जयगुरुदेव के भक्त कसम खाएंगे शराब नहीं पीने की  || अमेरिकी नौसेना का प्लेन क्रैश, 8 को बचाया || चीन में हुई गोलीबारी 3 की मौत, 6 घायल || 10 माह बाद रिहा होगा हाफिज  || वॉशिंगटन से अच्छी सड़कें हैं तो एक बार शनिचरा मार्ग की सड़कें भी देख लें  || सहेली की जान बचाने शहीद हुई थी वीरांगना  || सीएमएचओ के ड्राइवर और कंपाउंडर में पैसों के लेनदेन पर चले जूते-चप्पल || क्रेशर बस्ती में 362 आवास बनने का रास्ता हुआ साफ || मतदाताओं को मिलेगा यूनिक वोटर आईडी नंबर || मिलेनियम वोटर भी डालेंगे अगले चुनावों में वोट || सरकारी आवासों संबंधी मामले में मांगा जवाब || छोटों पर सितम, बड़ों पर रहम:श्रीवास || भालू की दहशत से घरों में दुबके लोग || बिना हैलमेट पुलिस वालों की थानों में दर्ज नहीं होगी आमद || घंटाघर में कबाड़ी के नौकर से जब्त किए साढेÞ पांच लाख || व्हीएफजे को मिला 750 एलपीटीए का काम || जेल बदलने भूख हड़ताल पर बैठा कैदी || सिर कुचलकर हम्माल की हत्या || फिर सिरफिरों ने किया उत्पात चार गाड़ियों के कांच फोड़े || निगम अधिकारियों ने चौपाटी कारोबारियों के सामने रखी शर्तें  || चेक का क्लोन बनाने वाला पकड़ा  || जेयू के प्रोफेसर अपना दायित्व अच्छे से निभा रहे हैं: प्रो. शुक्ला  || कांग्रेसी मियाद पर हिंदू महासभा ने कहा र्इंट का जवाब पत्थर से देंगे  || स्वच्छता के साथ ही ग्रामीणों को मिलेगा रोजगार  || बहन के घर से भाग जाने पर दुखी भाई ने लगा ली फांसी  || मकान तोड़ने से गुरेज नहीं, सड़क बने बेहतरीन  || सुधारे जाएं सफाई कर्मचारियों के आवास  || गाय से नहीं, 'चारा खाने वालों' से लगता है डर || लापरवाह अफसरों को थमाएंगे नोटिस  || सनी लियोन के साथ काम करना चाहते हैं अरबाज  || कश्मीर घाटी के तापमान में गिरावट || बढ़ रहे चाइल्ड केयर पिता ||

जबलपुर।   रेलवे में सफाई ठेकेदार के पास कार्यरत एक महिला सफाई कर्मी का पैर ड्यूटी पर रहते प्लेटफार्म के पास सफाई कार्य करते ट्रेन से कट गया। अब यह सफाई कर्मी एक-एक पैसे के लिए मोहताज होकर भंवरताल स्थित एक निजी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती है मगर उसके पास अस्पताल का बिल देने के लिए भी पैसे नहीं हैं। वहीं ठेकेदार ने अपने सुपरवाईजर से महिला को 5 हजार रुपए भिजवाकर अपने कर्तव्य की इतिश्री मान ली है। जानकारी के अनुसार सुनीता नामक इस महिला सफाई कर्मी का पति 5साल पहले ही मर चुका है।

3 बच्चे हैं आश्रित

उसक 1 बेटा जो कि 18 साल का है मानसिक रोगी है। वहीं 13 व 16 साल की दो बेटियां भी हैं। इनके सामने जीवन यापन का प्रश्न खड़ा हो गया है। सेन्ट्रल जेल के पीछे ललित कॉलोनी निवासी सुनीता बाई पति स्व. गोपी रेलवे स्टेशन में सफाई कर्मी के रूप में ठेकेदार के अधीन कार्यरत है।

9 नवंबर को हुई घटना

गुरूवार 9 नवंबर को उसकी ड्यूटी दोपहर 2 बजे से थी। जिसके लिए वह अपने घर से 1.30 बजे निकली और प्लेटफार्म नंबर6 से गुजर रही थी कि तभी महाकौशल एक्सप्रेस प्लेटफार्म से निकली जिसके इंजन ने सुनीता को टक्कर मार दी। सूत्रों के अनुसार घटना अचानक हुई थी और इंजन के लोेको पायलट ने हार्न तक नहीं बजाया था।

फस गई थी साड़ी

सुनीता की साड़ी इंजन में फस गई थी जिससे वह ट्रेन के नीचे आ गई और इस दुर्घटना में उसके एक पैर का पंजा कट गया। वह मौके पर तड़फती रही। बड़ी मशक्कत से उसे साथी सहकर्मियों ने इंजन के नीचे से निकाला और उपचार के लिए भंवरताल के पास स्थित एक निजी अस्पताल में भरती करवा दिया।

मामला दबाने के प्रयास

सुनीता के साथ जब यह हादसा हुआ तो वह अपनी ड्यूटी पर पहुंच चुकी थी। जिम्मेदारी के तहत सफाई ठेकेदार को आरपीएफ में शिकायत दर्ज करवाकर रेलवे से मदद की गुहार करनी चाहिए थी। साथ ही ठेका लेने वाली कंपनी को भी फण्ड का इंतजाम करना था,लेकिन सफाई ठेका कंपनी के अनुराग कुमार नामक सुपरवाईजर ने अस्पताल पहुंचकर महिला को मात्र 5 हजार रुपए ही दिए। मामले की आरपीएफ या जीआरपी में शिकायत तक दर्ज नहीं कराई गई। इस प्रकार से मामले को रफा-दफा करने का प्रयास किया गया। अस्पताल प्रबंधन अपनी फीस पर अड़ा है और महिला व उसके बच्चों के सामने पेट भरने का संकट खड़ा हो गया है।

peoplessamachar
NEWS EXPRESS

0

 
© Copyright 2016 By Peoples Samachar.