19-04-2018 08:58:pm
सिप्ला के प्लांट की यूएस एफडीए जांच पूरी || 9वीं-11वीं की पूरक परीक्षाएं 18-19 मई से || 22 को निकलेगा परशुराम चल समारोह || कोर्ट ने टीआई को फटकार लगाई, एसपी को तलब किया || 100 करोड़ जमा कराएं जेपी एसोसिएट्स || भेल को तेलंगाना से 137 करोड़ रुपए का ठेका || एसीसी अंबुजा से सप्लाई एग्रीमेंट को मंजूरी || कृषि के क्षेत्र में मध्यप्रदेश, देश में अग्रणी राज्य बना: पवैया || पूर्व मंत्री राजेंद्र सिंह का निधन || एनटीपीसी के पॉवर ग्रिड अडूपुरा में भीषण आग || पूर्व मंत्री की पार्थिव देह पंचतत्व में विलीन || अब लाइट व्हीकल के लिए कमर्शियल लाइसेंस जरूरी नहीं || नहीं निकलेगा भगवान परशुराम चल समारोह, मंदिरों में होगी पूजा || एक लाख लोगों को मिलेगा पीने का पानी || कैश की किल्लत! एटीएमों के बाहर लगी लाइनें || प्रकरणों का निराकरण समय में करें || ‘किड्स ओनली सेक्स’ के तीन सदस्य पुलिस गिरफ़्त में || बैसाखी मेले में छाए पंजाबी गीत, भांगड़ा-गिद्दा || लोहानी बोले-यात्रियों का सुरक्षित सफर ही हमारा मकसद || विवाह सम्मेलनों में वर-वधु की उम्र पूछने निकलेंगी टीमें || नहीं टूटेगी आर्मी की दीवार, गलत किया था सीमांकन || फैशन डिजाइनिंग पढ़ेंगी स्कूली छात्राएं || केन्ट में बाड़ी उखाड़ने पहुंची सेना || पार्षद मद 17 लाख बढ़ने से खिले चेहरे || शहपुरा में पेट्रोल टैंकर पलटा, लूटने उमड़ी भीड़ || अब देवी अहिल्या विवि के छात्र करेंगे ग्रामीण क्षेत्रों में सर्वे-रिसर्च || फिर नवजात को छोड़ गई निर्दयी मां, पहुंची अस्पताल || मप्र में 35 सालों से लंबित है काले हिरण के शिकार के 133 मामले || मिररलेस कैमरा ईओएस एम-50 भारत में हुआ लांच || रिलायंस जिओ ने ऋण जुटाने के लिए जापानी बैंकों से किया करार || कैनन को 3,500 करोड़ की बिक्री होने की उम्मीद || जंगली सूअर के हमले में दो आदिवासी घायल || आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज का शुद्ध मुनाफा 91 प्रतिशत उछला || हल्दी बाजार में मजबूत व्यापार || गोंडवाना पार्टी के जिला अधिकारी समेत परिवार से की मारपीट || रात 2 बजे पति के घर से निकलते ही आ धमके डकैत,की लूटपाट || बिना नियम बनाए पंचायतों को सौंप दी रेत की खदानें || मोंटफोर्ट स्कूल के स्काउट गाइड पुरस्कृत || बारिश से 32 ट्रकों में भरा गेहूं भीगा || किसानों के नाम पर मंडी में नारेबाजी और हंगामा || आग से 15 लाख का सामान खाक || बीयू के छात्रों ने किया कुलपति का घेराव || बुजुर्ग शहजाद बी को तकलीफ हुईतो होगी कार्रवाई || हड़ताल के चलते दूसरे दिन भी दफ्तरों में सन्नाटा || ऑरकुट संस्थापक ने लांच किया नया हेलो नेटवर्क || सीएंट ने बेचीं 49 फीसदी हिस्सेदारी || अधारताल जोन कार्यालय व हाईडेंट पर किया प्रदर्शन || प्राकृतिक जल स्रोत बचा नहीं पाए, अब मची त्राहि-त्राहि || पमरे ने अर्जित किए 1656.73 करोड़ रुपए || जनेकृविवि में दीक्षांत समारोह आज, राज्यपाल करेंगी पदक वितरण || जलसंकट बताने पहुंचे 4 विधायक || एसबीसी अध्यक्ष की हठधर्मिता के खिलाफ अधिवक्ता आज नहीं करेंगे पैरवी || अपने ही पैसे के लिए भटक रही रिटायर ननि कर्मी || रेत माफिया के गुर्गों ने की गुण्डागर्दी गाड़ी रोकने के संदेह पर की मारपीट || फटकार के बाद भी पेहसारी से शुरु नहीं हुई पानी की लिफटिंग || पूर्व वीसी सहित 17 लोग पेंशन के लिए परेशान || एमबीबीएस सीट बढ़ाने एमसीआई दल ने किया फाइनल निरीक्षण || जल बचाओ जीवन बचाओ अभियान प्रारंभ || कर्फु के चलते दिन भर घरों में कैद रहे लोग || भाजपा के 70 फीसदी विधायकों की हालत खराब एक तिहाई मंत्रियों के जीतने की संभावना भी कम || सरकारी गेस्ट हाउस की छत पर जमाई ‘राज्यमंत्री’ ने धूनी || राजनीतिक दलों ने रावत को शिकायतों के साथ दिए सुझाव || आईपीएल: चेन्नई और मुंबई के बीच रोमांचक मुकाबले की संभावना ||

ग्वालियर। ठीक आठ दिन बाद दूसरे राष्ट्रव्यापी बंद को लेकर लोगों की हिंसक घटनाओं की आशंकाएं निर्मूल साबित हो गर्इं। आरक्षण विरोधी संगठनों के आव्हान के बावजूद मंगलवार को बंद कराने कोई भी संगठन सामने नहीं आया, फिर भी ग्वालियर-चंबल संभाग में अभूतपूर्व बंद रहा। यह बिना किसी दबाव के पूरी तरह स्वैच्छिक और शांतिपूर्ण रहा। कहीं कोई शोरशरा बा भी नहीं हुआ। इस दौरान सवारी वाहन भी सड़कों पर दिखाई नहीं दिए। बुधवार से कμर्यू हट जाएगा। दो अपै्रल को बंद के दौरान जो कुछ घटित हुआ, उसके विपरीत मंगलवार के बंद में ग्वालियर- चंबल अंचल में पूरी तरह शांति रही। इस दौरान संभागायुक्त, आईजी, डीआईजी, एडीजीपी, कलेक्टर, एसपी सहित अन्य अधिकारी अपने वाहनों से दिनभर शहर में भ्रमण कर स्थिति पर नजर रखे रहे। हालांकि शासन की मंशा थी कि बाजार खुलें, लेकिन लोगों ने पूरी तरह बंद रख अपनी भावनाएं व्यक्त कर दीं। बंद के दौरान रेपिड एक्शन फोर्स की एक कंपनी, स्पेशल टॉस्क फोर्स की दो कंपनी, क्यूआरटी की एक कंपनी, बटालियन की पांच कंपनी, चार ड्रोन कैमरे और अन्य सुरक्षा बल दिनभर सक्रिय रहे।

मंसूबों पर फिरा पानी

बंद के दौरान कहीं कोई जुलूस या रैली दिखाई नहीं दी। इस सन्नाटे को चीरती हुए सड़कों पर केवल पुलिस के डंडे और वाहनों की आवाज ही सुनाई दे रही थी। शहर में हर तरफ सन्नाटा रहा। जहां देखो वहां पर पुलिस नजर आई।

हिंदु महासभा ने दिया भोज

बंद के दौरान शहर के लोगों को सामाजिक समरसता का संदेश देने के लिए हिंदु महासभा ने गेंडेवाली सड़क पर सामूहिक भोज का आयोजन किया। इसकी खबर मिलने पर बड़ी संख्या में पुलिस बल वहां पहुंच गया, लेकिन सभी वर्गों के लोगों की उपस्थिति देख वापस लौट गया। महासभा के राष्ट्रीय नेता डॉ. जयवीर भारद्वाज, पार्षद बाबूलाल चौरसिया व मोहन सिंह बघेले ने सामाजिक समरसता के लिए शहर भ्रमण किया।

टीआई ने दी आरक्षक को गाली

पुलिस लाइन से एक आरक्षक कंपू थाने में 59 जवानों के लिए 90 पैकेट खाने के लेकर पहुंचा तो टीआई ने 30 अधिक पैकेटों की मांग की। इसके लिए आरक्षक ने लाइन के अधिकारी से बात करने को कहा। बताया जा रहा है इस पर टीआई ने गाली-गलौज कर दी। जिसकी शिकायत आरक्षक ने आरआई से की। आरआई ने इसकी शिकायत आला अधिकारियों से की है। पिछले एक सप्ताह से पूड़ीस ब्जी खा रहे जवानों का मंगलवार को खाने का मैन्यू बदल दिया गया। खाने में दाल, सब्जी, अचार, रोटी, चावल व मिठाई दी गई।

शांति से भी व्यक्त की जा सकती हैं भावनाएं

किसी मुद्दे को लेकर यदि हमारा विरोध है तो उसके लिए जरूरी नहीं कि तोड़फोड़ या हिंसा ही की जाए। इसके और भी तरीके हो सकते हैं। इसका प्रमाण मंगलवार को मिला, जब आरक्षण विरोधी संगठनों के आव्हान पर बिना उनके मैदान में उतरे ‘बंद’ पूरी तरह सफल और स्वैच्छिक रहा। इस दौरान समूचे अंचल में कहीं कोई ऐसी हरकत नहीं हुई, जिससे समाज का सिर शर्म से झुके। इस बंद की खास बात ये रही कि पूरे दिन न तो बंद समर्थक संगठन सड़कों पर दिखाई दिए, न ही किसी पर बंद कराने के लिए किसी तरह का दबाव रहा। इससे उन लोगों को करारा जवाब मिल गया, जिन्होंने अपने स्वार्थ के लिए दो अपै्रल को ग्वालियर-चंबल अंचल सहित प्रदेश के अन्य स्थानों पर तांडव मचा दिया था। साथ ही यह भी स्पष्ट हो गया कि अपनी बात मनवाने के लिए हिंसा या दबाव ही काम नहीं करता, बल्कि शांति से भी अपनी भावना व्यक्त की जा सकती है। मंगलवार के बंद ने भविष्य के लिए भी यह संकेत दे दिए कि यदि हम शासन-प्रशासन पर अपनी बात मनवाने के लिए कोई दबाव बनाना चाहते हैं तो यह शांतिपूर्ण और स्वेच्छा से भी संभव है। इसके लिए जरूरी नहीं कि हिंसा या तोड़फोड़ ही की जाए। गौरतलब है कि 2 अपै्रल को ग्वालियर-चंबल अंचल में हिंसा का जो खूनी खेल खेला गया, वैसा तो 1984 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या और 1992 में अध्योध्या में विवादित ढांचा गिराए जाने पर भी नहीं हुआ था। दो अपै्रल की घटना ने इस अंचल के आपसी सद्भाव और भाइचारे के माथे पर ऐसा कलंक लगाया है, जो कभी धुल नहीं सकेगा।

जुआरियों को पकड़ने गई पुलिस पर पथराव

मंगलवार को बंद के दौरान चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात रही। अधिकारी पूरे समय भ्रमण करते रहे। उधर केदारपुर गांव में झांसी रोड थाने की डायल 100 भ्रमण कर रही थी, तभी उसमें तैनात दीवान हरिप्रसाद ने कुछ लोगों को पत्ते खेलते देखा। उन्होंने उन लोगों को पकड़ने का प्रयास किया तो उन्होंने बचने के लिए पत्थर फैंके और भाग निकले। इसकी सूचना मिलते ही भारी मात्रा में बल केदारपुर पहुंचा। वहां पता चला कि दीवान ने जल्दबाजी में सेट पर एनाउंस कर दिया, जबकि वहां कुछ था ही नहीं। इस हरकत पर अधिकारी नाराज दिखाई दिए।

बंद से जुड़े लोगों के साथ बैठे अधिकारी

बंद के दौरान कहीं कोई अप्रिय स्थिति निर्मित न हो, इसके लिए प्रशासन और पुलिस अधिकारियों ने बंद समर्थक संगठनों और शहर के गणमान्य नागरिकों के साथ 22 स्थानों पर बैंठकें कीं। इस बीच एक-दो जगह से गलत सूचनाएं भी मिलीं। जब पुलिस मौके पर पहुंची तो सूचना गलत निकलीं।1111नहीं चले सवारी वाहन मंगलवार को बंद को देखते हुए लोगों ने अपनी इच्छा से सवारी वाहन भी नहीं चलाए। आॅटो, टैंपो व बसों के पहिए थमे रहे। इससे ग्वालियर आने-जाने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। कुछ लोगों ने तांगे आदि का सहारा लिया। इस दौरान आमजन भी बहुत कम संख्या में घरों से बाहर निकले।1111ढाई लाख का खाना व चार लाख का तेल जला दो अप्रैल के उपद्रव के बाद शहर में तीन हजार जवानों ने डेरा डाल रखा है। इनके खाने-पीने पर प्रतिदिन करीब ढाई लाख रुपए का खर्च हो रहा है। इसमें चौंकाने वाली बात यह है कि सोमवार शाम से लेकर मंगलवार की शाम तक कुल 160 वाहनों का उपयोग किया गया, जिनमें करीब चार लाख रुपए का तेल जल चुका है। लोगों ने पूछा नेट चालू व कμर्यू कब हटाओगे: पुलिस अधीक्षक कार्यालय में स्थित कन्ट्रोल रुम में शहरवासियों के कई फोन आए। उन्होंने नेट चालू कब हो रहा है , कμर्यू कब हटा रहे हैं , की पूछताछ की। वहीं कुछ फोन कॉल इमरजेंसी सेवाओं के लिए आए कि एंबुलेंस नहीं आ रही, कृपया मरीज भेजने के लिए वाहन उपलब्ध करवाएं।

बीस गाड़ियों का काफिला घूमा

शहर में शहर में उपद्रव होने की स्थिति में तत्काल मदद पहुंचे, इसके लिए बीस गाड़ियों में सौ जवानों को तैनात कर पूरे शहर में पैट्रोलिंग कराई गई। यह वाहन सुबह से लेकर शाम तक घूमते रहे।

peoplessamachar
NEWS EXPRESS

0

 
अधिकांश एटीएम पर टंगा मिला ‘कैश उपलब्ध नहीं है’ का बोर्ड || मंदसौर नपा की नवीन पीआईसी गठित, चार नए विभाग प्रभारी बनो || वैवाहिक सीजन के चलते बाजारों में रही भारी भीड़, जमकर हुई खरीदी || जनसुनवाई में 45 आवेदकों ने सुनाई परेशानी || देश का अच्छा नागरिक बनने का लक्ष्य रखकर आगे बढ़ें || मुख्यमंत्री चौहान ने 398 समूहों को दी 122 लाख की आजीविका निधि || पंप हाउस डेढ़ साल से बंद , 10 मिनट मिल रहा पानी || छोटी लाइन पर लगाया जीएसटी चौराहा का बोर्ड || 2 साल से आ रहा जनसुनवाई में मगर कोई नहीं सुनता || पाइप लाइन बिछाने देखा एलाइनमेंट || अनदेखी से होर्डिंग्स स्ट्रक्चर गिरा हाईटेंशन लाइन पर || स्वर्ण बांड की पहली खेप की बिक्री 16 अप्रैल से  || ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट को खरीदने के लिए वॉलमार्ट-अमेजन में घमासान || विराट कोहली और रहाणे में होगा रॉयल मुकाबला  || कैनन को 3,500 करोड़ की बिक्री होने की उम्मीद || हल्दी बाजार में मजबूत व्यापार || हाउसिंग फॉर आॅल योजना में आवासों की बुकिंग करें शुरू || साहित्य की सामर्थ्य में आत्मीयता का बोध: दीक्षित || मिररलेस कैमरा ईओएस एम-50 भारत में हुआ लांच || रेगुलर बच्चों को प्राइवेट की मार्कशीट दी, अब वह भी वापस ले ली || क्लेम सेटलमेंट में लगेगा आधा टाइम और ग्रोथ रेट होगी डबल || मैं अब वापस नहीं आऊंगी, मम्मी-पापा माफ कर देना || उबर ने ट्रांसपोर्ट मैनेजमेंट के लिए लांच किया टूल || ऑयल कंपनियों ने घरेलू बाजार में घटाए पेट्रोल और डीजल के दाम || डीजीपी ने दिए पुलिस को सोशल मीडिया से दूरी बनाने के निर्देश || आइडिया-वोडाफोन का विलय जून अंत तक हो सकेगा पूरा  || मोंटफोर्ट स्कूल के स्काउट गाइड पुरस्कृत || बुजुर्ग शहजाद बी को तकलीफ हुईतो होगी कार्रवाई || जनशिक्षकों को हटाने पर अध्यक्ष, डीपीसी में तकरार || नई कंपनी के टारगेट के लिए पुरानी कंपनी से चुराते थे डेटा || मासूम बच्चे को रोता छोड़ महिला ने लगाई फांसी || पतली हुई नर्मदा नदी की धार, बचा आधा पानी || सीएंट ने बेचीं 49 फीसदी हिस्सेदारी || जलसंकट बताने पहुंचे 4 विधायक || एसबीसी अध्यक्ष की हठधर्मिता के खिलाफ अधिवक्ता आज नहीं करेंगे पैरवी || आज कर्फ्यू में 16 घंटे की ढील || नवागत कलेक्टर छवि भारद्वाज ने संभाला प्रभार, ली बैठक || परियट नदी के कई जगह सूखने से मगरमच्छों का क्षेत्र सिमटा || उत्पातियों को बख्शा नहीं जाएगा : सिंह || सरकारी स्कूल की शिक्षिका के साथ छेड़छाड़, कस्बे में तनाव का माहौल || कर्फ्यू के दौरान मिली 6 घंटे की ढील, रही शांति || फिर जगी वायु सेना की उम्मीद, मिलेंगे 110 लड़ाकू विमान || भाजपा ने मनाया 945 बूथों पर स्थापना दिवस || स्वच्छता देखने गोवा का प्रतिनिधिमंडल इंदौर पहुंचा || आईसीआईसीआई बैंक की प्रमुख चंदा कोचर के देवर से पूछताछ || विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू जिले में आई नई ईवीएम मशीनें  || एमपी पीएससी का रिजल्ट घोषित करने का रास्ता साफ || सर्कुलर जारी करने के पहले ही कैसे बन गए नागरिकों के दस्तावेज...? || कार्ड स्वैप करते ही हाथ में आ गया स्क्रीन बॉक्स || बंसल कॉलेज में सेमिनार में बताए साइबर क्राइम रोकने के तरीके || सैर पर गए रिटायर्ड अफसर की तालाब में डूबने से मौत || 12,951 नेत्र पीड़ितों के आॅपरेशन किए डॉ. स्थापक ने ||
© Copyright 2016 By Peoples Samachar.