25-05-2018 08:23:pm
यूपी एटीएस ने आईएसआई एजेंट को किया गिरफ्तार || बेटे और होने वाली बहू संग बदरीनाथ पहुंचे मुकेश अंबानी || पेटीएम पर बंपर सेल, सिर्फ 7,999 रुपए में खरीद सकते हैं एचडी टीवी || बीएमडब्ल्यू ने भारत में पेश किए मिनी के उन्नत संस्करण  || मप्र में 87 बैच के अफसर पीएस अन्य राज्यों में 88 बैच के सीएस || एडमिशन के नाम पर राजस्थान में भी 80 लाख की धोखाधड़ी || इटली: ट्रैक पर फंसे ट्रक से ट्रेन की टक्कर, 2 की मौत, 18 घायल  || पाक: आम चुनावों में 13 ट्रांसजेंडर लेंगे भाग  || बॉलीवुड में रिश्तेदारी नहीं तो एंट्री में होती है मुश्किल: प्रियंका चोपड़ा  || परेश ने ‘जीजा-साली के रिश्ते’ के बहाने कसा विपक्षी एकता पर तंज  || चौथा बड़ा निवेशक है नीदरलैंड ||

भोपाल। दहेज के दंश से पीड़ित एक नवविवाहित जोड़ा मंगलवार को कलेक्टर सुदाम पी खाडे से न्याय पाने की आस लेकर कलेक्टोरेट पहुंचा। जोड़े को शादी किए अभी तीन माह ही पूरे हुए हैं, लेकिन सास-ससुर और देवर ने उनके जीवन को नर्क बना दिया है। दहेज न लाने पर सास-ससुर ने बहू दो माह तक लगातार मारपीट की, जब बेटे ने इसका विरोध किया, तो दोनों को ही घर से बाहर निकाल दिया है। अब यह जोड़ा दर-दर की ठोकरें खा रहा है। हम बात कर रहे हैं मकान नंबर -221 जय अम्बे चाट वाला झूलेलाल मंदिर के सामने बैरागढ़ भोपाल में रहने वाले नवविवाहित जोडे रुचि तीर्थानी (22 वर्ष) और पारस बत्रा 25 वर्ष की। कलेक्टर ने इस मामले में संज्ञान लेते हुए विवाहित जोड़े को न्याय दिलाने के लिए महिला सशक्तिकरण विभाग की अधिकारी को निर्देश दिए हैं। रुचि तीर्थानी ने बताया कि बुधवार को पहले थाने में मामला दर्ज होगा, उसके बाद कोर्ट में केस लगाया जाएगा, ताकि हमें न्याय मिल सके।

यह है मामला

रुचि तीर्थानी ने कलेक्टर को शिकायती आवेदन सौंपते हुए बताया कि उसकी शादी 16 फरवरी 2018 को पारस बत्रा पुत्र नानकराम बत्रा निवासी अंकुर नर्सिंग होम के सामने ईदगाह हिल्स से हुआ था। विवाह के 10 दिन बाद से ही ससुराल वालों ने मुझे दहेज के लिए तरह-तरह से प्रताड़ित करना शुरू कर दिया था। मैं दो माह तक सास-ससुर की यातनाएं सहती रही। जब मारपीट बढ़ने लगी, तो पति पारस को बताया, उन्होंने भी अपने माता-पिता का विरोध किया। इसके बाद तो सास सुशीला, देवर चंचल बत्रा, ससुर नानकराम बत्रा सभी मिलकर मेरे साथ अत्याचार करने लगे। सभी मिलकर मेरे साथ मारपीट करते और तरह तरह से प्रताड़ित करते। बकौल रुचि - मेरे माता-पिता ने अपनी हैसियत के हिसाब से सब कुछ दिया था, लेकिन उसके बाद भी सास-ससुर की मांग बढ़ती ही जा रही थी। 15 अप्रैल को मेरे माता-पिता ने सास-ससुर को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे जिद पर अड़े हुए हैं। पति पारस ने विरोध किया, तो हम दोनों को ही घर से बाहर निकाल दिया है। पिछले कुछ दिनों में मैं और मेरा पति दोनों मेरे माता-पिता के यहां रह रहे हैं।

सास-ससुर ऐसे करते थे बहू को प्रताड़ित

* खाने की थाली छीन लेते थे, उसमें रखा खाना भी उठा लेते थे।

* किचिन में खाना बनाने पर रुचि को हाथ से पकड़कर बाहर भेज देते थे।

* हर छोटी-छोटी बात पर मारपीट करते थे।

* घर में झाडू-पोछा तक दो से तीन बार कराया जाता था, कई बार तो जबरन पानी घर में उड़ेलकर साफ सफाई कराई जाती थी।

peoplessamachar
NEWS EXPRESS

0

 
बीयू कर्मियों की सेवानिवृत्ति आयु हो सकती है 62 साल || कभी भी अटैक कर सकता है खतरनाक निपाह वायरस || गंगा दशहरा पर नर्मदा में उमड़े भक्त || फौजी को बेलगाम ट्रक ने कुचला || बेटे से विवाद, पिता पर दागी गोली, मौत || मेल व पवन की पेन्ट्री कार में मिलीं एक्सपायरी डेट की कोल्ड ड्रिंक्स || सोमनाथ एक्सप्रेस पर पथराव || ईमानदार अफसरों को नहीं मिल रहा मोदी राज में प्रमोशन || रोगी कल्याण समिति में आर्थिक अनियमितता का बड़ा ‘खेल’ || आग से कपड़ा दुकान खाक || कारोबारी को लात मारकर गिराया 52 हजार नकद और मोबाइल लूटा || 45 फीट ऊंचे टॉवर पर चढ़ा युवक || हेपेटाइटिस की बीमारी पर नहीं मिली आर्थिक मदद || महिला हेल्प यूनिट में रोज पहुंच रहीं दो शिकायतें || बैरसिया में अनूप जलोटा के कार्यक्रम के लिए तैयार डोम जलकर हुआ खाक || ट्रैवल्स संचालक को लूटने वाले तीन बदमाश गिरफ्तार || बेटी बनाकर ले आई थी बुआ, बना दिया नौकरानी, बेरहमी से की जाती थी पिटाई || मंगेतर से प्रताड़ित होकर युवती ने लगाई थी फांसी || नवनियुक्त कांग्रेस अध्यक्ष ने सिंधिया से लिया मार्गदर्शन || ट्यूबवेल पर दबंगों ने लगा दिया था ताला महापौर ने खोला, लोगों को पानी बांटा ||
© Copyright 2016 By Peoples Samachar.