24-06-2018 10:35:pm
नेटफ्लिक्स के सीसीओ को नौकरी से निकाला  || सुषमा स्वराज ने बेल्जियम के डिप्टी पीएम से की भेंट || एमयू का कद घटाने बनाया दबाव || अमेरिका के वैज्ञानिकों ने तैयार किया दुनिया का सबसे छोटा कम्प्यूटर || एयर इंडिया के सर्वर में खराबी से 23 उड़ानों में देरी  || अमेरिका से भारत खरीदेगा 1,000 नागरिक विमान || वॉट्सएप की सेवा शर्तों और गोपनीयता नीति में बदलाव || मोदी सरकार के कार्यकाल के दौरान कई बैकिंग धोखाधड़ी के मामले सामने आए  || नॉकआउट में जगह बनाने के लिए मेसी एंड कंपनी ने जमकर बहाया पसीना || माल्या के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी  || ट्रंप के होटल का शराब लाइसेंस रद्द करने की मांग- ||

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री कार्यालय ने करीब 750 अधिकारियों को देश के 115 जिलों के 45,000 गांवों में सात सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन पर नजर रखने की जिम्मेदारी सौंपी है। ग्राम स्वराज अभियान (ॠरअ) के दूसरे संस्करण के तहत होने वाले इन कार्यों पर खुद प्रधानमंत्री कार्यालय की गहन निगरानी होगी। इकोनॉमिक टाइम्स की खबर के अनुसार, हर 75 गांव के लिए एक अधिकारी की नियुक्ति की गई है और उसको निर्देश दिया गया है कि 15 अगस्त तक निर्धारित गांव में चार से सात दिन का कम से कम तीन दौरा करें। हर जिले के लिए एक प्रभारी अधिकारी की नियुक्ति की गई है, जो संयुक्त या अतिरिक्त सचिव की भूमिका में रहेगा। 322 डायरेक्टर, डिप्टी सिक्योरिटी आॅफिसर और 322 अंडर सेक्रेटरी को नोडल आॅफिसर की भूमिका में रखा जाएगा। हर प्रभारी अधिकारी से 10 नोडल अधिकारी जुड़े होंगे, जो अधिकारियों के गांव में दौरे की व्यवस्था करेंगे। पांच प्राथमिकता वाले क्षेत्रों जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, पोषण, कौशल, कृषि में सात सरकारी योजनाओं का चुनाव किया गया है। इसके लिए दिल्ली के कृषि भवन में एक कंट्रोल रूम की व्यवस्था की गई है।

सबसे ज्यादा गांव बिहार के

इस व्यवस्था के तहत चुने हुए गांवों में सबसे ज्यादा 8,569 गांव बिहार के हैं। इसके बाद पश्चिम बंगाल के 7,981 गांव, झारखंड के 6,512 गांव, यूपी के 5,130 गांव और मध्य प्रदेश के 3,048 गांव शामिल किए गए हैं।

peoplessamachar
NEWS EXPRESS

0

 
पीतांबरा पीठ से निकलते ही यमुना प्राधिकरण के पूर्व सीईओ गिरफ्तार || डेढ़ साल की मासूम का किया अपहरण, बेचने की थी कोशिश || सतना में डकैत को तलाशने गई पुलिस पार्टी का 1 जवान लापता || जालसाज पायल सैम्युअल पर गोविंदपुरा थाने में भी केस || न एईओ नियुक्त हुए और न सरकारी स्कूलों की दशा सुधरी || सालों 18 किलोमीटर पैदल किया सफर, बन गई जेलर || 4,000 सफाई कर्मियों को ले गए इंदौर इधर, शहर में न झाड़ू लगी न कचरा उठा || प्रीमियम ट्रेनों के पहले नहीं चलेंगी सुपरफास्ट ट्रेनें || 47 वार्डों में 540 लोगों को कराया गृह प्रवेश || स्वच्छता सर्वेक्षण में ग्वालियर का 28 वां स्थान, अवार्ड गंवाया || काउंसलिंग में पहुंचे 129 प्रतिभागी, मिले ट्रेनिंग लेटर || परिवारिक विवादों की सुनवाई परामर्शदाता करेंगे || अजिता वाजपेयी पांडेय पहुंचीं कांग्रेस दफ़तर  || सदन में अपनी ही सरकार को फिर घेरने को तैयार गौर || पिता की अस्थियां घर के गार्डन में गाड़कर लगा दिए पौधे, ताकि पिता का अहसास हमेशा के लिए जिंदा रहे || वरिष्ठ कांग्रेसियों से जमीनी हकीकत जानेंगे : कमलनाथ् || बताओ न्यायालय के आदेश की नाफरमानी क्यों? || 1750 परिवारों ने किया गृह प्रवेश || जिरह में ठीक से जवाब नहीं दे पाई रेप पीड़िता, दुखी होकर लगा ली फांसी || मल्टीलेवल पार्किंग में अब तक नहीं लगी लिफ्ट , फायर सिस्टम भी अधूरा || पीजी की 67 हजार 500 सीटों का आवंटन आज ||
© Copyright 2016 By Peoples Samachar.