22-07-2018 08:24:pm
टीवी, फ्रिज, एसी समेत 17 चीजें अब 28 से 18% टैक्स के दायरे में || भीड़ तंत्र बेकाबू: अलवर में फिर गो-तस्करी के संदेह में हत्या || सुब्रमण्यम स्वामी ने अदालत में दर्ज कराए बयान  || मोदी बोले-अविश्वास की वजह पूछी तो गले पड़ गए || कार्यकर्ताओं को शाह का मंत्र, रोज 18 घंटे काम करें  || प्रो. त्यागी द्वारा निर्मित लघु फिल्म का राष्ट्रपति भवन में होगा प्रदर्शन || अब ममता ने दिया भाजपा भारत छोड़ो का नया नारा  || वॉट्सएप बताएगा, कौन सी लिंक संदिग्ध है  || ट्रांसपोर्टर्स की हड़ताल लंबी खिंची तो बढ़ेंगे सब्जियों के दाम || राहुल गांधी के भाषण पर फिदा हुए शॉटगन || बैंकों से 20,995 करोड़ लेकर दो दर्जन से अधिक पूंजीपति हुए चम्पत || ऑनलाइन टिकट बुक कराना होगा और महंगा ||

भिंड। मिशन द सरदार पटेल भारत संगठन के राष्टय अध्यक्ष जंग बहादुर पटेल ने मीडिया से रूबरू होते हुऐ कहा कि सरदार बल्भव भाई पटेल का भारत आज टूटने और बिखरने की ओर अग्रसर है। देश में हर वर्ग अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा है। सरदार पटेल एक किसान नेता थे, उन्होंने देशभर में किसान आंदोलन कर किसानों को मजबूत करने का काम किया। सभी वर्गों को साथ लेकर भारत का निर्माण किया। सेना के जवानों के सम्मान के लिए भी उन्होंने अपनी बात को जिम्मेदारी से रखी। यह बात आज मिशन द सरदार पटेल भारत संगठन के राष्टÑीय अध्यक्ष जंग बहादुर सिंह पटेल ने मीडिया से चर्चा करते हुए अपने संगठन की मांगों को भी रखा। श्री पटेल ने कहा कि आज सरदार के सम्मान के लिए संगठन मांग करता है कि राजधानी दिल्ली में सरदार पटेल की स्मृति में अखंड घाट बनाया जाए और उनके अतिंम सस्कार स्थल मुंबई में समाधि बनाई जाए। साथ ही देश के सभी विश्व विद्यालयों में उनकी प्रतिमा लगाई जाए एवं भारत किसान आयोग बनाकर उसे संवैधानिक दर्जा दिया जाए और स्वामी नाथन आयोग की रिपोर्ट लागू किया जाए। श्री पटेल ने कहा के आज देश असुरक्षित है देश का हर वर्ग किसी न किसी के रूप में परेशान है, लेकिन वर्तमान सरकार अपने अड़ियल रवैया पर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि सात दशक पहले ब्रिटिश शासनकाल में इतनी देश की जनता परेशान नहीं थी जितनी कि आज है। उन्होंने कहा कि आरएसएस तथा देश के प्रधानमंत्री मोदी जनता को हिंदू बनाने का काम कर रहे हैं। जबकि हमारे पास कई ऐसे साक्ष्य मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल जी सभी धर्मों का बराबर सम्मान करते थे। उन्होंने 30 जनवरी 1948 महात्मा गांधी जी को गोली मारने के 4 दिन के अंदर सख्त से सख्त कार्रवाई करते हुए सरदार पटेल ने 4 फरवरी को आरएसएस संघ को प्रतिबंधित कर दिया था। उन्होंने कहा देश के अधिकांश भाग में कानून व्यवस्था भंग हो चुकी है अपराधियों के गिरोह उद्योग क्षेत्र में खुले हत्याऐ,लूट कर रहे हैं अपराधियों का राजनीतिकरण हो गया है। जिससे सार्वजनिक जीवन प्रदूषित हो रहा है। श्री पटेल ने कहा कि आज के भाजपा नेता संविधान और सुव्यवस्थित राज्य को खुली चुनौती दे रहे हैं। अब सरदार पटेल और उनकी व्यवस्था राज्य की संकल्पना की ओर ध्यान देना जरूरी हो गया है।

peoplessamachar
NEWS EXPRESS

0

 
विदिशा के विकास शवों को नि:शुल्क पहुंचाते हैं मुक्तिधाम, अब 9 भाषाओं में वीडियो जारी कर दूसरों को भी जोड़ रहे || जेब काटते हुए रंगे हाथ पकड़े गए तो हवलदार पर चाकू से किया हमला, तीन को दबोचा || अवैध बैनरऔर कटआउट जब्त डॉक्टर पर 5 हजार का जुर्माना || जेल से बाहर लाए तीन बदमाशों ने कबूलीं वारदातें  || सीएम के एक क्लिक से 46 हजार बच्चों को मिली लैपटॉप की राशि  || जबलपुर-गोंदिया ब्रॉडगेज का 28 किमी काम बाकी  || मजाक बन कर रह गर्इं ननि सदन की जांच समितियां  || युवती को भगाकर सूरत ले गया, दुराचार के बाद छोड़कर भागा || थमे ट्रकों के पहिए, एंट्रेंस प्वाइंटों पर ट्रांसपोर्टर्स की टीमें रहीं मौजूद || करोड़ों का चूना लगने पर लेखाधिकारी नहीं दे पाए जवाब  || आरक्षण चार्ट पेपरलैस वर्क योजना हुई फेल || जमीन संबंधी मामला सुलझाने शोरुम पर पहुंचे, झगड़ा हुआ तो शोरुम तोड़ा  || लाखों की स्मैक के साथ तस्कर पकड़ा  || प्रदेश में भ्रष्टाचार का बोलवाला: कटारे  || सरपंच पुत्र दे रहा था फोटो वायरल करने की धौंस || लाखों रुपए की हीरे की दो चूड़ियां और नकदी चुराने वाला नौकर गिरफ्तार ||
© Copyright 2016 By Peoples Samachar.