20-08-2018 07:53:pm
वावरिंका को हरा फेडरर सिनसिनाटी मास्टर्स के सेमीफाइनल में पहुंचे || भारतीय नौका चालक भोकानल की निगाहें स्वर्ण पदक पर || 16 साल की मनु भाकर पर रहेगा स्वर्णिम शुरुआत का दारोमदार || तेजस्वी ने मांगा एक और मंत्री का इस्तीफा || 11 साल की लड़की को अगवा कर किया गैंगरेप  || उप्र की 163 नदियों में विसर्जित की जाएंगी वाजपेयी की अस्थियां || ‘अपनी शाम अपनी जिंदगी के नाम’ करें कर्मचारी || आर्थिक संकट में पाक सरकार || सीमा पार से घुसपैठ की बड़ी कोशिश नाकाम || नरेंद्र दाभोलकर मर्डर केस में एक हमलावर गिरफ्तार || बाढ़-बारिश से कर्नाटक का बड़ा हिस्सा भी जलमग्न || 70 गौवंश को भरकर जा रहा ट्रक पकड़ाया, कई की मौत ||

चेन्नई। तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके पार्टी के मुखिया एम करुणानिधि का निधन हो गया है। वे तमिल सिनेमा जगत के एक नाटककार और पटकथा लेखक भी थे। उनके समर्थक उन्हें कलैनार (कला का विद्वान) कहकर बुलाते रहे हैं। उनके निधन पर तमिलनाडु सरकार ने बुधवार की छुट्टी और पूरे सूबे में सात दिवसीय शोक की घोषणा की। तमिलनाडु में थिएटर बंद कर दिए गए हैं। पीएम मोदी और राष्ट्रपति कोविंद समेत अन्य नेताओं ने करुणानिधि के निधन पर शोक जताया है। मोदी ने कहा, करुणानिधि को देश हमेशा याद रखेगा। उन्होंने ट्वीट किया, इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदना करुणानिधि के अनगिनत समर्थकों और परिजनों के साथ है। भारत और खासकर तमिलनाडु उनको हमेशा याद रखेगा। उनकी आत्मा को शांति मिले। मरीना बीच पर स्मारक बनाया जाएगा।

14 साल की उम्र में किया था राजनीति में प्रवेश

जस्टिस पार्टी के अलागिरीस्वामी के भाषण से प्रभावित होकर करुणानिधि ने राजनीतिक जीवन में कदम रखा। तब उनकी उम्र 14 साल थी। वे हिंदी विरोधी आंदोलन से जुड़े। उन्होंने हाथ से लिखकर 'मानवर निशान' नाम का समाचार पत्र निकालना शुरू किया। उन्होंने 20 साल की उम्र में ज्यूपिटर पिक्चर्स में पटकथा लेखक के रूप कॅरियर शुरू किया।

तीन शादियां की थीं

करुणानिधि ने तीन बार शादियां की, उनकी तीनों पत्नी पद्मावती, दयालु आम्माल और राजात्तीयम्माल। उनके बच्चे एमके मुत्तु, एमके अलागिरी, एमके स्टालिन और एमके तामिलरसु जबकि पुत्रियां सेल्वी और कानिमोझी रहीं। पद्मावती, जिनका देहावसान काफी जल्दी हो गया था, ने उनके सबसे बड़े पुत्र एमके मुत्तु को जन्म दिया था। अजगिरी, स्टालिन, सेल्वी और तामिलरासु दयालु अम्मल की संताने हैं, जबकि

46 साल तक काला चश्मा पहना

करुणानिधि की 1971 में अमेरिका के जॉन हॉपकिंग्स अस्पताल में आंखों की सर्जरी हुई थी। 2017 में उन्होंने चश्मा बदलने का फैसला लिया तो चेन्नई के मशहूर विजय आॅप्टिकल्स ने नए फ्रेम के लिए सारे देश में खोज शुरू की। 40 दिन की खोज के बाद जर्मनी से नया चश्मा मंगाया गया। नए चश्मे का फ्रेम हल्का था और इसने ही करुणानिधि के 46 साल पुराने चश्मे की जगह ली।

द्रमुक के टिकट पर 1957 में लड़ा था पहला चुनाव

1949 में सीएन अन्नादुरई ने द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) का गठन किया। करुणानिधि अन्नादुरई के साथ आ गए। अन्नादुरई ने 1956 के तिरुचि सम्मेलन में पार्टी को चुनावी मैदान में उतारने का निर्णय लिया। 1957 में करुणानिधि तिरुचिरापल्ली की कुलथलाई सीट से पहली बार चुनाव जीते।

भगवान राम के अस्तित्व पर उठाए थे सवाल

2007 में कांग्रेस नेतृत्व वाली यूपीए सरकार के वक्त राम सेतु का मुद्दा संसद में चर्चा का विषय बना हुआ था। इसबीच करुणानिधि ने सवाल करते हुए कहा कि 17 साल पहले एक आदमी के बनाए पुल को ना तोड़ने की बात कही जा रही है। राम कौन थे और उनके होने के सबूत कहां हैं? उनके इस बयान पर काफी विरोध हुआ था।

स्टालिन संभालेंगे करुणानिधि की विरासत : करुणानिधि ने डीएमके की कमान पिछले 50 सालों से संभाल रखी थी, लेकिन अक्टूबर 2016 में ही उन्होंने अपने बेटे एमके स्टालिन को सियासी वारिस घोषित कर दिया। स्टालिन की खासियत है कि वह पार्टी के अन्य नेताओं की तुलना में आम लोगों से कहीं भी मिल लेते हैं।

भ्रष्टाचार के आरोप में हुई थी गिरμतारी : जयललिता और करुणानिधि धुर विरोधी रहे। टकराव का एक उदाहरण करुणानिधि की गिरμतारी के दौरान देखने को मिला। 30 जून 2001 की रात पौने दो बजे पुलिस ने करुणानिधि को उनके घर से अरेस्ट किया था। चेन्नई में μलाई ओवर्स के निर्माण में हुए भ्रष्टाचार के मामले में यह गिरμतारी हुई थी।

peoplessamachar
NEWS EXPRESS

0

 
दोबारा होगा फ्लाई ओवर का आॅन लाइन ग्लोबल टेंडर || आयुर्वेद कॉलेज छात्रों ने की भूख हड़ताल || प्रचार के लिए शासकीय संपत्तियों पर ‘माननीयों ’का कब्जा! || 3 हजार मकानों को हटाने का दारोमदार राजस्व अमले पर || सीएम हेल्पलाइन : निगमायुक्त ने 2 घंटे बैठकर जानी हकीकत || डेंगू-चिकनगुनिया का हमला, हजारों चपेट में || केन्ट पार्षद व ड्राफ़्ट मैन के बीच विवाद, नोटिस दिया || नेत्रहीन नाबालिग को अगवा कर रहे बदमाश का विरोध किया तो सिर पर तलवार मारी || बांध का जल स्तर नहीं हो रहा कम, खुले है पांच गेट || निगम ने कई स्थानों से हटाए अवैध बैनर, होर्डिंग्स व पोस्टर || अपोलो हॉस्पिटल इंदौर ने डायल 22 लांच की, इन-पेशेंट केयर का स्तर बढ़ाया || सुल्तानगढ़ हादसा: 40 लोगों की जान बचाने वाले जांबाजों का सम्मान || छह जुआरियों से तेईस हजार 300 रुपए जब्त || 4 हड़ताली छात्रों की हालत बिगड़ी, आईसीयू में भर्ती || डकैती की साजिश रचते हथियार सहित पांच गिरफ्तार || विस चुनाव तक नहीं बनेगी घमापुर-रांझी फोरलेन रोड || इंजीनियरिंग की आधी से ज्यादा सीटें खाली, 6 कॉलेजों में एडमिशन जीरो ||
© Copyright 2016 By Peoples Samachar.