20-07-2018 09:49:pm
घाटी में जाकिर के पीस टीवी समेत 30 चैनल बैन  || मोटे अफसरों को दिया फिटनेस प्रमाण पत्र, तो डॉक्टरों पर हो सकती है कार्रवाई || मिग क्रैश होने से पहले आबादी से दूर ले गए पायलट, मौत  || सिंगर हंसराज हंस बने आध्यात्मिक गुरू || सार्वजनिक स्थलों पर मिले स्तनपान सुविधा : हाईकोर्ट || स्मार्टफोन से बढ़ सकता है एडीएचडी का खतरा || त्यागी समेत 34 के खिलाफ सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल  || बृहस्पति के 10 नए ‘चंद्रमा’ खोजे गए || मोदी सरकार के खिलाफ चार साल में पहली बार अविश्वास || तुर्की में 24 माह बाद खत्म हुआ आपातकाल || भारतवंशी सालाना 100 करोड़ डॉलर करते हैं दान || रणजी में उतरेंगी बिहार सहित नौ नई टीमें  || पाकिस्तान की एकतरफा जीत  || हंगामे से हर घंटे 1.5करोड़ रु. की चपत || जजों की रिटायरमेंट उम्र 2 साल बढ़ा सकती है सरकार  || 20 मील पैदल चलकर पहुंचा आॅफिस, बॉस ने गिफ्ट की कार ||

ग्वालियर सीमा विवाद हमेशा अपराधी को फायदा दिलाता है। सीमा विवाद में पड़कर हम जहां अपराधी के खिलाफ ठोस कार्रवाई नहीं कर पाते वहीं अपराधी भाग कर दूसरे शहर में ठिकाना बनाकर वहां पर अपराध घटित करता है। इन विवादों को समाप्त कर कार्य करना होगा। यह बात पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सभागार में आयोजित अंतर्राज्यीय समन्वयक बैठक का शुभारंभ करते हुए चंबल आईजी संतोष सिंह ने कही। बैठक का शुभारंभ सुबह साढ़े 11 बजे हुआ, जो दोपहर ढाई बजे तक चली। बैठक में उपस्थित होने वाले सभी अधिकारियों ने अपनेअ पने अनुभवों को साझा किया। एसपी नवनीत भसीन ने प्रजेंटेशन देते हुए अपराध व अपराधियों का डाटा साझा किया। बैठक का समापन करते हुए आईजी अंशुमन यादव ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि समय-समय पर इस तरह की बैठकों का आयोजन होना चाहिए, जिससे आपसी तालमेल बना रहता है अपराधियों से संबंधित डाटा साझा किया जा सकता है।

यह लोग रहे उपस्थित

आईजी अंशुमन यादव, चंबल आईजी संतोष कुमार सिंह,डीआईजी मनोहर वर्मा, डीआईजी चंबल सुधीर व्ही लॉड, राजस्थान भरतपुर रेंज से आईजी आलोक वशिष्ठ, सवाई माधौपुर से एएसपी लक्ष्मणदास, कैलादेवी करौली व मनिया धौलपुर जिले के सर्किल अधिकारी एवं उत्तर प्रदेश से पुलिस डीआईजी झांसी रेंज सुभाष सिंह बघेल, एसपी ललितपुर डॉ. ओपी सिंह तथा ग्वालियर- चम्बल जोन के समस्त पुलिस अधीक्षक मौजूद रहे।

लोकल पुलिस सहयोग करे

अपराधी को पकड़ने आने वाली बाहरी पुलिस का लोकल पुलिस सहयोग करे। उसके लिए बाहरी पुलिस नोडल अधिकारी को सूचना देगी तो संबंधित थाना पुलिस को निर्देशित कर सहयोग दिलाने का काम करेगा।

सीमाओं को लॉक करना

बैठक में इस बात पर सहमति बनी कि जिले व राज्य की सीमाओं पर लॉकिंग सिस्टम तैयार किया जाए। जिससे अपराधी आसानी से सीमा पार न कर सके।

स्कवाड तैयार करना

सीमाओं पर गश्त करने के लिए अलग से स्क्वाड तैयार किया जाए। जो समय समय पर गश्त करते हुए अपराधियों के मूवमेंट की जानकारी एकत्रित कर साझा करे तथा उन्हें पकड़ने का काम करे।

चुनाव में व्यावधान न पहुंचे

बैठक का मुख्य उद्देश्य वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव बिना व्यवधान के संपन्न करवाना है। चुनाव के दौरान असमाजिक तत्व बाहर से आकर व्यवधान उत्पन्न कर भाग निकलते हैं। इसलिए इस तरह के लोगों का प्रवेश पूर्णत: रोका जा सके।

डाटा का आदान प्रदान करना

अपराधियों का डाटा सभी जिला व राज्य पुलिस एक-दूसरे के साथ साझा करे। निगरानी सुदा, गुण्डा, शातिर किस्म तथा जेल में बंद अपराधियों की पूरी जानकारी एक-दूसरे के साथ आदान-प्रदान की जाएगी।

peoplessamachar
NEWS EXPRESS

0

 
टीले पर फंसा परिवार, सेना का हेलिकॉप्टर भी मदद में नाकाम  || केरवा कोठी पर सुनवाई आज, अजय सिंह पर मां ने लगाए थे आरोप  || 3 साल की योजना से केंद्र ने 1 साल में हाथ खींचे  || प्रदर्शन कर शिक्षको ने जताई नाराजगी || शिवराज को आशीर्वाद मांगने का कोई हक नहीं || मंत्री पवैया के लोकार्पण करने के 37 दिन बाद भी आवासों का आवंटन नहीं || एमएससी बॉटनी की मार्कशीट दो साल बाद भी नहीं आर्इं || मप्र को भी अब बड़े पैमाने पर मिल रहे हैं मैडल: यशोधरा || 20 से ट्रांसपोर्टर्स की स्ट्राइक, सब्जी, किराने की होगी किल्लत || एटीएम से बैटरी व एसी चुराने वाले गिरफ्तार || बैंक में चली गोली, गनमैन व गार्ड घायल || फरार भू-माफिया शेख इस्माइल गिरफ्तार || व्यापारी के साथ सरेराह एक लाख रुपए की लूट || अनिश्चितकालीन हड़ताल पर 23 से जाएंगे जूनियर डॉक्टर्स  || मप्र में पहली बार इंदौर में लगेंगे रेडियो फ्रिक्वेंसी स्मार्ट मीटर ||
© Copyright 2016 By Peoples Samachar.